Home » Ajab Gajab » विकलांगों को हीन दृष्टि से न देखें, ये हैं दिव्य अंगों के मालिक

विकलांगों को हीन दृष्टि से न देखें, ये हैं दिव्य अंगों के मालिक

भारत में अगर किसी व्यक्ति के किसी अंग को नुकसान पहुंचता और वह कार्य करना बंद कर देता है तो लोग उसे विकलांग कहकर हीन दृष्टि से देखते हैं ।

मंगलवार 17 जुलाई 2018, हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी अपने कार्यकाल में ही नहीं अपितु प्रधानमंत्री बनाने से पूर्व भी उन व्यक्तियों के प्रति सम्मान रखते हैं जिन्होंने किसी कारणवश या जन्म से ही अपने शरीर का कोई अंग खो दिया हो । प्रधानमंत्री ने इन्हे विकलांग नाम से पुकारने को भी सही नहीं बताया और नया नाम दिव्यांग नाम दिया ।

प्रधानमंत्री द्वारा यह नाम व्यर्थ और राजनीति से प्रेरित शब्द नहीं अपितु एक बहुत बड़ा सम्मान है ऐसे व्यक्तियों के लिए । नेत्र खो चुके व्यक्तियों को आसपास देखा होगा जो अपना जीवन वैसे ही व्यतीत करते हैं जैसे एक सामान्य व्यक्ति ।

एक बहुत ही प्यारा वीडियो यहाँ पर आप देख सकते हैं जिसमे एक दिव्यांग लड़की अपने भाई को राखी बांध रही है ।

 

Check Also

अपने ही बेटे से की शादी और अब बनने वाली है उसकी माँ

अपने ही बेटे से की शादी और अब बनने वाली है उसकी माँ

कभी आप ने सुना है की किसी माँ ने अपने ही बेटे से शादी की …

3 comments

  1. Have you ever thought about creating an ebook or guest authoring on other sites?
    I have a blog based on the same information you discuss and would
    love to have you share some stories/information. I know
    my readers would value your work. If you’re
    even remotely interested, feel free to send me an e-mail. https://www.karpfen-spezial.de/redir.php?url=http://www.mbet88vn.com

  2. Its such as you read my thoughts! You appear to understand a lot about
    this, such as you wrote the e-book in it or something.
    I feel that you simply could do with some % to pressure the
    message home a bit, but instead of that, this is magnificent blog.

    An excellent read. I will certainly be back.

  3. whoah this blog is wonderful i like reading your posts. Stay up the good work!

    You understand, a lot of individuals are looking around
    for this info, you could help them greatly. http://alternatif188bet.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *