Home » India » अटल जी का शरीर को नमिता ने दी मुखा अग्नि

अटल जी का शरीर को नमिता ने दी मुखा अग्नि

पूर्व प्रधानमंत्री जी का शरीर पंच तत्व में विलीन हो गया । नमिता ने दी अटल जी को मुखाग्नि ।

शुक्रवार 17 अगस्त 2018, आखिरकार देश ने एक और हिरा खो दिया जिसने इस दुनिया को छोड़ अनंत यात्रा को स्वीकार कर लिया । अटल जी के शरीर पंचतत्वों में विलीन हो गया नमिता ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी को दी मुखाग्नि ।
पूर्व प्रधान मंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का दिल्ली में स्मृति स्टाल में पूर्ण राज्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया।
  • अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करज़ई और श्री लंका के कार्यवाहक विदेश मंत्री लक्ष्मण किरीला ने स्मृति स्थल पर  पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को अंतिम सम्मान दिया।
  • भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामगील वांगचुक ने स्मृति स्टील में पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अंतिम सम्मान दिया।
  • उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अंतिम संस्कार के लिए दिल्ली में स्मृति स्थल पर मौजूद थे ।
  • फ्रांस द्वारा अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर जारी वक्तव्य: कवि, राजनेता, दूरदर्शी, उन्होंने भारत के इतिहास पर अपना निशान छोड़ा। उनका नाम भारत-फ़्रेंच दोस्ती से जुड़ा हुआ है, जिसे उन्होंने 1998 से रणनीतिक साझेदारी शुरू करके आकार दिया था ।
  • दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह, कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, अशोक गेहलोत और राज बब्बर, पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अंतिम संस्कार के लिए स्मृति स्थल पर मौजूद थे।
  • पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सम्मान के रूप में नई दिल्ली में ब्रिटिश उच्चायोग में यूनियन जैक आधे मस्तूल में उड़ा।
Next Prev
           
Next Prev

Check Also

पुलवामा के बाद क्या पाकिस्तानी कलाकारों के भारत में काम देना सही ?

आतंकी हमले में 40 जवानों के शहीद होने के बाद 2 आतंकियों का एनकाउंटर करते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *