Home » India » कांग्रेस द्वारा लागू आपातकाल के 43वें वर्षगांठ पर प्रधानमंत्री ने सम्बोधित की सभा

कांग्रेस द्वारा लागू आपातकाल के 43वें वर्षगांठ पर प्रधानमंत्री ने सम्बोधित की सभा

25 जून 1975 में इंदिरा गाँधी ने देश में आपातकाल घोषित किया था । यह आपातकाल 21 महीने चला था । 21 मार्च 1977 में आपातकाल वापस लिया गया था ।

मंगलवार 26 जून 2018, इंदिरा गाँधी द्वारा लगाए गए आपातकाल की ४३ वर्ष पुरे हो चुके हैं । भारतीय जनता पार्टी ने इसे सत्ता की भूख में देशवासियों को ऊपर थोपा गया जबरदस्ती का बोझ था जिसे कांग्रेस ने अपनी साख बचने की लिए लागू किया था । भारतीय जनता पार्टी आपातकाल की वर्षगांठ को कला दिवस की रूप में मन रही है ।

प्रधानमंत्री ने मुंबई में सभा को सम्बोधित करते हुए देशवासियों को आपातकाल को सत्ता की भूख का परिणाम बताया है । प्रधानमंत्री ने कहीं ये बातें –

  • देश में जब-जब एक परिवार की कुर्सी पर संकट आता है तो वे चिल्लाना शुरू कर देते हैं कि लोकतंत्र खतरे में आ गया है। यह वही परिवार है, जिसने अपने सत्ता सुख के लिए इमरजेंसी लगाकर पूरे देश को जेल बना दिया था।

  • किशोर कुमार के गाने हों या आंधी जैसी फिल्म, आपातकाल में हर प्रकार की अभिव्यक्ति पर पाबंदी लगा दी गई थी।

  • लोकतंत्र को कुचल देने वाले आज संविधान खत्म होने का झूठा भय फैलाने में लगे हैं!

  • हमारे इलेक्शन कमीशन को दुनिया भर में सराहा जाता है, लेकिन देश भर में नकार दिए जाने के बाद कांग्रेस इलेक्शन कमीशन पर भी सवाल उठा रही है।

  • आपातकाल के समय कांग्रेस की जो मानसिकता थी, वही आज भी है। महाभियोग प्रस्ताव इसी मानसिकता का प्रतीक है।

Check Also

विलुप्‍त होने के कगार पर केला

केला के विलुप्‍त होने की आशंका सामने नज़र आ रही है जिसके चलते अगले कुछ …

One comment

  1. Hi there! This is my first visit to your blog!
    We are a group of volunteers and starting a new
    project in a community in the same niche. Your blog provided us valuable information to work on. You have done a marvellous job!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *