Home » India » राष्ट्रपति बनते ही रामनाथ कोविंद के गांव की तस्वीर बदलने लगी

राष्ट्रपति बनते ही रामनाथ कोविंद के गांव की तस्वीर बदलने लगी

राष्ट्रपति बनते ही रामनाथ कोविंद के गांव की तस्वीर बदलने लगी

कानपुर देहात। देश के 14वें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के गांव बच्चे हाइटेक होने जा रहे हैं। मानव संसाधन मंत्रालय ने कोविंद के गांव के प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालयों को कम्प्यूटर व प्रोजेक्टर से परिपूर्ण बनाने की ठान ली है।

रामनाथ कोविन्द के पैतृक गांव का नाम परौख है जो की कानपुर देहात में है। गांव के प्राथमिक और जूनियर विद्यालय में बच्चे ब्लैक बोर्ड के बजाय प्रोजक्टर से पढ़ाई करेंगे। बच्चों को कम्प्यूटर की शिक्षा दी जाएगी। केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय के इस फैसले से गांव के लोगों में खुसी का माहौल है। इससे गांव का शिक्षा का स्तर सुधरेगा, ऐसा लोगों का विश्वास है।

रामनाथ कोविंद के सहपाठी विजय पाल सिंह ने बताया कि शिक्षा ग्रहण करने के लिए उन्होंने बचपन में कई कठिनाईयों का सामना किया है। बारिश के मौसम में सिर पर बस्ता रख करीब 6 km पैदल चलकर स्कूल जाते थे और वापस आते थे।

शिक्षा के सुधार के लिए कार्य तेजी से शुरू कर दिया गया है।

Check Also

पुलवामा के बाद क्या पाकिस्तानी कलाकारों के भारत में काम देना सही ?

आतंकी हमले में 40 जवानों के शहीद होने के बाद 2 आतंकियों का एनकाउंटर करते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *