Home » India » गूगल की होली, डूडल में भर दिए रंग

गूगल की होली, डूडल में भर दिए रंग

दुनिया में घटित हुए या होने वाले विशेष अवसर को दुनिआ के सामने लेन के लिए गूगल जिस माध्यम का प्रयोग करता है वह है डूडल । आज का डूडल भारत में मनाये जाने वाले सबसे बड़े त्यौहार होली पर है ।

गुरुवार 21 मार्च 2019 ,  दुनिया के हर कोने में गूगल डूडल के माध्यम से भारत में मनाये जाने वाले सबसे बड़े त्यौहार होली को पहुँचाया है । अधर्म पर धर्म की विजय का प्रतीक है यह त्यौहार । भारत में मनाया जाना वाला यह त्यौहार सभी धर्मो के जोड़ता है और इस दिन कोई भी किसी वैर न करते हुए प्रेम से एक दूसरे के गले लगता है ।

क्यों मानते हैं होली ?

हिरणकश्यप नमक राक्षस के अत्याचारों को समाप्त करने के लिए माध्यम बने प्रह्लाद के पूजनीय विष्णु भगवन ने नरसिंघ का अवतार लिया था । प्रह्लाद विष्णु भगवान का भक्त था और हिरणकश्यप ने धरती पर ईश्वर की पूजा पर रोक लगा दी थी और अपनी पूजा करवाता था ।

अपने ही पुत्र प्रह्लाद के विष्णु भक्त होने का पता चलते ही हिरणकश्यप ने प्रह्लाद को मरने का निस्चय किया और छल से अग्नि के हवाले प्रह्लाद को करने की योजना बनाई। हिरणकश्यप की बहन थी होलिका जिसे वरदान था की वह अग्नि में सुरक्षित रहेगी और इसी वरदान का इस्तेमाल हिरणकश्यप ने प्रह्लाद को मरने के लिए किया ।

हिरणकश्यप ने होलिका के साथ प्रह्लाद को चिटा पर बैठा दिया जिससे होलिका तो बच जानी थी और प्रह्लाद को जीवट जल जाना था लेकिन ईश्वर की और ही इच्छा थी । वरदान के विपरीत होलिका तो जल गई किन्तु प्रह्लाद बच गया ।

अंततः हिरणकश्यप ने प्रह्लाद को खुद मारने के लिए आगे बढ़ा। प्रह्लाद की प्रार्थना पर विष्णु भगवान ने नरसिंघ कर अवतार धारण किया और स्तम्भ को पहाड़ कर हिरणकश्यप के सामने जा खड़े हुए । नरसिंघ ने हिरणकश्यप को अपने नाखूनों से फाड़कर मार डाला ।

हर वर्ष होलिका जलाई जाती है और होली खेलकर उत्सव को मनाया जाता है ।

Check Also

जॉनसन एंड जॉनसन बेबी शैम्पू ‘असुरक्षित’

जॉनसन एंड जॉनसन बेबी शैम्पू को ‘असुरक्षित’ होने की सम्भावना बयक्त की जा रही है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *