Home » India » भारत और पाकिस्तान शंघाई सहयोग संगठन के पूर्णकालिक सदस्य बने

भारत और पाकिस्तान शंघाई सहयोग संगठन के पूर्णकालिक सदस्य बने

भारत और पाकिस्तान शंघाई सहयोग संगठन के पूर्णकालिक सदस्य बने

अस्ताना। कजाकिस्तान की राजधानी अस्ताना में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के दौरान भारत तथा पाकिस्तान को शुक्रवार को एससीओ की पूर्णकालिक सदस्यता मिल गई। चीन के प्रभुत्व वाले इस सुरक्षा समूह को नाटो का शक्ति-संतुलन करने वाले संगठन के तौर पर देखा जा रहा है।

रूस ने एससीओ में भारत की सदस्यता की पुरजोर वकालत की थी वहीं समूह में पाकिस्तान के प्रवेश का समर्थन चीन ने किया था। विस्तार के बाद अब एससीओ 40 प्रतिशत आबादी और वैश्विक जीडीपी के करीब 20 प्रतिशत हिस्से का प्रतिनिधित्व करेगा।

मोदी ने कहा, ‘भले ही हम एससीओ के सदस्य आज बने हैं, लेकिन हमारे बीच के संबंध ऐतिहासिक हैं।’ उन्होंने कहा कि एससीओ के साथ भारत के संबंधों में ऊर्जा, शिक्षा, परिवहन, कृषि, सुरक्षा, विकास तथा व्यापार की शीर्ष भूमिका होगी।

मोदी के मुताबिक, आतंकवाद के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लड़ाई में एससीओ एक ताकतवर साझेदार होगा। मोदी के भाषण के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एससीओ की सदस्यता मिलने पर भारत को बधाई दी।

भारत, ईरान और पाकिस्तान को 2005 में अस्ताना में हुए सम्मेलन में पर्यवेक्षकों के रूप में शामिल किया गया था। जून 2010 में ताशकंत में हुए एससीओ के सम्मेलन में नयी सदस्यता पर लगी रोक हटाई गयी थी और समूह के विस्तार का रास्ता साफ हो गया।

भारत का मानना है कि एससीओ के सदस्य के रूप में वह क्षेत्र में आतंकवाद के खतरे से निपटने में बड़ी भूमिका निभा सकेगा।

Check Also

विलुप्‍त होने के कगार पर केला

केला के विलुप्‍त होने की आशंका सामने नज़र आ रही है जिसके चलते अगले कुछ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *