Home » India » निपाह वायरस का खौफ केरल के नागरिकों में, फैल रही महामारी

निपाह वायरस का खौफ केरल के नागरिकों में, फैल रही महामारी

निपाह नाम  के वायरस से होता है मानसिक संक्रमण । मस्तिष्क पर करता है संक्रमण ।

सोमवार 21 मई 2018,  केरल में कई लोगों की जान निपाह वायरस ने ले ली है । निपाह वायरस मस्तिष्क को संक्रमित करता है जिसके कारण मरीज की  उम्र 2 दिन से ज्यादा नहीं होती।  यह वायरस एक विशेष प्रजाति के चमगादड़ों में पाया जाता है। ऐसे  चमगादड़ों की नस्लें फलों पर निर्भर होती है। इन्हें  फ्रूट्स बैट भी कहते हैं। फ्रूट्स बैट जिस फल को खाते हैं उसमें यह वायरस अगले शिकार के लिए ट्रांसफर हो जाता है। जब कोई व्यक्ति इस फल को खाता है तो यह वायरस संक्रमण के साथ तेजी से फैलता है ।

 

निपाह वायरस काफी खतरनाक है  इससे संक्रमित प्राणी 2 दिन से ज्यादा जीवित नहीं रहता है। चमगादड़ों में यह वायरस प्राकृतिक रूप से पाया जाता है । वायरस से बचने के लिए जूठे फलों को नहीं खाना चाहिए । खजूर के पेड़ों पर इन चमगादड़ों का पाया जाना अधिकतम होता है। इनके द्वारा खाये  गए खजूरों को खाने से संक्रमण फैल सकता है।

Check Also

प्रधानमंत्री मोदी अगले हफ्ते जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री मोदी ‘जी-20’ शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए अगले हफ्ते जापान …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *