Home » India » रफ़ाल ने खड़ी की एक और मुसीबत, सरकारी दस्तावेज हुए चोरी

रफ़ाल ने खड़ी की एक और मुसीबत, सरकारी दस्तावेज हुए चोरी

विपक्ष द्वारा रफाल का मुद्दा किसी ब्रम्हास्त्र से कम नहीं । कांग्रेस इसे अपने राजनितिक फायदे के लिए कभी भी इस्तेमाल कर लेती है । अब इस रफाल के दस्तावेज़ ने भी मुसीबत कड़ी कर दी है । सरकारी सूत्रों के अनुसार रफाल से सम्बंधित दस्तावेज़ चोरी हो गए हैं ।

बुधवार 6 मार्च 2019,  सुप्रीम कोर्ट में रफाल मुद्दे पर पुनर्विचार की सुनवाई में एटॉर्नी जनरल (एजी) केके वेणुगोपाल ने कहा कि इस लड़ाकू विमान के सौदे से जुड़े कुछ ख़ास दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी हो गए हैं। नरेंद्र मोदी सरकार ने फ़्रांस से 2016 में रफ़ाल सौदे पर हस्ताक्षर किया था। 59,000 करोड़ रुपए की इस डील में फ़्रांस की डसॉ कंपनी से भारत को 36 लड़ाकू विमान मिलने हैं।

सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायधीश रंजन गोगोई, जस्टिस एसके कौल और केएम जोसेफ़ की बेंच रफ़ाल पर पुनर्विचार याचिका की सुनवाई कर रही है।

सुनवाई के दौरान मौजूद वरिष्ठ क़ानूनी संवाददाता के० सुचित्रा मोहंती अनुसार एटॉर्नी जनरल ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि गोपनीयता के कानून के अनुसार चोरी करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।



Check Also

मेनका गांधी और आजम खान के चुनाव प्रचार रोक

नई दिल्‍ली। चुनाव आयोग ने आचार संहिता उल्‍लंघन मामले में सोमवार को चार नेताओं पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *