Home » India » आज है रावण दहन, कुम्भकर्ण और मेघनाथ भी जलेंगे

आज है रावण दहन, कुम्भकर्ण और मेघनाथ भी जलेंगे

असत्य पर सत्य की विजय और बुराई पर अच्छाई का प्रतिक माना जाने वाला दशहरा आज धूम धाम से मनाया जायेगा ।

शुक्रवार 19 अक्टूबर 2018, भारत के सभी देशवासियों के लिए आज का दिन एक बहुत बड़ा सन्देश देने वाला है । नारी का अपमान कितना विनाशकारी होता है यह बात रामायण में रावण द्वारा किये गए कृत्य और उसकी पूरी राक्षसी सेना के सर्वनाश से पता चलता है । जिससे विवाह किया उसका सम्मान एक दूसरे की ताकत होता है यह हम राम और सीता के चरित्र से सीख सकते हैं और पति या पत्नी का एक दूसरे से प्रेम और सम्मान का न होने पर क्या परिणाम होता है यह सबक हमे रावण और मंदोदरी के चरित्र से सीखने को मिलता है ।

पत्नी का पतिव्रता होना कितना प्रभावशाली होता है यह माता सीता के चरित्र से सीख सकते हैं जिन्होंने अकेले ही पूरी राक्षसी नगरी में रहने के वावजूद भी उनका कोई अहित न कर सका । लक्ष्मण का अपने बड़े भाई श्री राम के प्रति सम्मान हमे अपनों से बड़े को आदर देना सिखाता है ।

रामायण में एक और चरित्र जिन्हें हर प्राणी मन से सदा ही याद करता है और जिनका पूरा जीवन सिर्फ अपने स्वामी श्री राम के लिए समर्पित है वो हैं अंजनी के लाल श्री हनुमान । प्रभु का स्मरण ही सभी दुखों को हरने वाला है और इनका रामायण में चरित्र पग पग पर प्राणी को भक्ति, आधार भाव, अहंकार विहीन जीवन के लिए प्रेरित करता है ।

नौ (9) दिनों तक चले रामायण में सभी चरित्र प्राणी मात्र को कुछ न कुछ सीख देते हैं और अंत में 10वें दिन रावण दहन के साथ यह बताया जाता है की असत्य चाहें कितना शक्तिशाली क्यों न हो सत्य के आगे हमेशा छोटा ही होता है ।

आज दशहरा के दिन देश के प्रधानमंत्री ने ट्वीट करके देशवासियों को शुभकामनायें दी हैं ।

 

 

आज दशहरा के दिन देश के राष्ट्रपति ने ट्वीट करके देशवासियों को शुभकामनायें दी हैं ।

Check Also

प्रियंका का दलितों का अपने पक्ष में करने का मिला अवसर, चंद्रशेखर से की मुलाकात

भीम आर्मी के नेता चंद्र शेखर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहाँ पहुंचकर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *